उत्तर प्रदेश ताजा समाचार देश मुजफ्फरनगर

भारत सरकार के राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के तहत गंगा क्वेस्ट के विजेताओं को मिलेंगे लैपटाप, टैबलेट

मुजफ्फरनगर: भारत सरकार के राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के तहत चलाए गए नमामि गंगे कार्यक्रम में आनलाइन गंगा क्वेस्ट-2021 का आयोजन किया जा रहा है। प्रश्नोत्तरी के विजेताओं को ई-सर्टिफिकेट, मेडल, लैपटॉप, टी-शर्ट व टैबलेट समेत अनेक उपयोगी पुरस्कार भी दिए जायेंगे।

नेहरू युवा केंद्र की राष्ट्रीय युवा स्वयंसेविका प्रीति पाल ने बताया कि गंगा क्वेस्ट-2021 में हिदी और अंग्रेजी भाषा में आनलाइन प्रश्नों के उत्तर देने हैं। लाकडाउन में नमामि गंगे कार्यक्रम से युवाओं और स्कूली बच्चों को जोड़ने के लिए यह पहल की गयी है। युवाओं को यह बताया जाएगा कि कैसे गंगा नहीं जीवन दायिनी है। कैसे करें प्रतिभाग

गंगा क्वेस्ट में 10 वर्ष या उससे अधिक आयु का कोई भी व्यक्ति या छात्र-छात्राएं 29 मई की अंतिम तिथि से पहले ‘गंगा क्वेस्ट डाट काम’ पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं।
मोरना स्थित गंगा पब्लिक पूर्व माध्यमिक विद्यालय में बुधवार को वैशाख मास की पूर्णिमा पर बाबा गुरु गोरखनाथ के प्रकटोत्सव पर हवन-यज्ञ किया गया तथा कोरोना से निजात दिलाने के लिए प्रार्थना की गई।

भारतीय उपाध्याय समाज के जिला महामंत्री बिजेंद्र उपाध्याय ने बताया कि हर साल वैशाख पूर्णिमा को यह उत्सव मनाया जाता है, जिसे रोट महोत्सव कहते हैं। हवन-यज्ञ में संतोष उपाध्याय, पूजा, सीमा रानी, स्वीटी उपाध्याय, सौरभ, सुरेश, चौधरी ईशम सिह, हरपाल सिंह, राजेंद्र चौधरी, बेगराज सिंह, ठाकुर अमन सिंह, सतपाल धीमान, रोहित चौधरी, धर्मेद्र, अभिषेक कुमार, राजेंद्र धीमान व विनीत उपाध्याय आदि लोगों ने मंत्रोच्चारण के बीच आहुति देकर पर कोरोना से निजात के लिए प्रार्थना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *