उत्तर प्रदेश ताजा समाचार देश

अयोध्या के राम मंदिर ‘जमीन खरीद घोटाला’ पर बोले सुरजेवाला- ये रामद्रोह है

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के चंदे से खरीदी गई जमीन में कथित घोटाले लेकर विपक्ष लगातार राम मंदिर ट्रस्ट और भाजपा को निशाने पर ले रहा है। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सोमवार सुबह एक वीडियो अपने ट्विटर पर शेयर किया है। इस वीडियो को शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है कि श्रीराम के नाम पर चंदे की लूट रामद्रोह है। रणदीप सिंह सुरजेवाला ने करीब नौ मिनट का वीडियो शेयर किया है। इसकी शुरुआत ‘अयोध्या के रामद्रोही’ टाइटल से होती है। इसके बाद वडियो में बताया गया है कि कैसे मंदिर के लिए मिले चंदे से जमीनों को खरीदने में घपलेबाजी हो रही है और करोड़ों की हेरफेर की जा रही है। वीडियो में सुरजेवाला ने कई गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि खुलेतौर पर चंदे की लूट चल रही है।

सुरजेवाला ने कहा कि दीप नारायण नाम के शख्स ने 20 फरवरी 2021 को जो जमीन 20 लाख रुपए में खरीदी थी, वही जमीन 11 मई 2021 को राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट को 2.5 करोड़ में बेच दी। राज्य सरकार के मुताबिक जमीन की कीमत मात्र 4,000 रुपए प्रति वर्गमीटर है. तो फिर मंदिर के चंदे को इतनी बड़ी चपत क्यों लगी। सुरजेवाला ने कहा कि दीप नारायण अयोध्या के बीजेपी के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय का रिश्तेदार है। ऐसे में उनको ये फायदा पहुचाया गया। उन्होंने ये भी सवाल किया कि जब राम मंदिर जमीन खरीद में भ्रष्टाचार के इतने गंभीर आरोप लग रहे हैं तो पीएम मोदी और सीएम योगी चुप क्यों हैं, उनकी चुप्पी को आखिर क्या समझा जाए।

सुरजेवाला ने इससे पहले रविवार को कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई जमीनों में घोटाले का सुप्रीम कोर्ट संज्ञान ले और अपनी निगरानी में जांच कराए। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने ही मंदिर निर्माण पर फैसले के साथ एक ट्रस्ट बनाने का निर्देश केंद्र सरकार को दिया था। अब इसमें गंभीर घपला सामने आया है।
बता दें कि हाल ही में राम मंदिर के लिए खरीदी घई जमीन के कुछ कागजात हाल ही में सामने आए हैं। जिनमें कुछ घपले की बात कही गई है। एख ही जमीन को कुछ ही घंटों के भीतर पहले दो करोड़ और फिर 18 करोड़ में खरीदा गया है और भी कुछ इसी तरह के आरोप हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *