उत्तर प्रदेश कोविड—19 ताजा समाचार देश मुजफ्फरनगर

चीनी मिल ने कस्बा व विभिन्न कार्यालयों को सैनिटाइज किया

मुजफ्फरनगर: बुढ़ाना में लाकडाउन लगने के बाद से ही नगर पंचायत की टीम सड़कों पर उतर पूरे कस्बे को सैनिटाइज कर रही है। वहीं एसडीएम के निर्देश पर बजाज चीनी मिल ने भी गुरुवार को सैनिटाइज कराया। इस दौरान कस्बे के बाजार, मुख्य मार्गो व चौराहों के अलावा तहसील, ब्लाक, सीओ, बैंक तथा पुलिस चौकियों पर भी सैनिटाइजेशन हुआ। दूसरी ओर, भाकियू कार्यकर्ताओं ने कोरोना महामारी को देखते हुए किसान हित में चीनी मिल में आक्सीजन युक्त अस्थाई अस्पताल की मांग की है। किसानों की मांग है कि हर गांव व घर में बीमारी फैली हुई है। गरीब किसान अस्पतालों व चिकित्सक के यहां चक्कर लगा रहे हैं। ऐसे में चीनी मिल को किसानों के सहायतार्थ चीनी मिल में अस्थाई आक्सीजन युद्ध युक्त अस्पताल बनवाना चाहिए। चीनी मिल के अधिकारियों को ज्ञापन देने वालों में तहसील अध्यक्ष अनुज बालियान, ब्लाक अध्यक्ष संजीव पंवार, परवीन, परविदर, पिन, तैमूर व नसीम आदि रहे। बदलते मौसम से बागवान परेशान
मौसम का मिजाज दो दिन से पल-पल बदल रहा है। गुरुवार को शहर समेत देहात के कुछ इलाकों में बारिश हुई। इससे बाग संचालकों की परेशानी बढ़ गई है। किसान भी मौसम से आशंकित हैं।

बुधवार को जिले में बारिश के साथ ही चरथावल और खतौली में ओले पड़े थे। इससे किसानों के माथे पर बल पड़ गए थे। आम और लीची के बाग संचालक परेशान हो उठे थे। गुरुवार को भी मौसम ठीक नहीं रहा। सुबह के समय कुछ समय के लिए धूप निकली, लेकिन फिर आसमान में बादल छा गए। शहरी क्षेत्र में भोपा, मोरना, जानसठ और लालूखेड़ी क्षेत्र में बूंदाबांदी हुई। हालांकि हवा की रफ्तार सामान्य रही। गन्ना शोध संस्थान की मौसम सेल के आधार पर अधिकतम तापमान 32.4 और न्यूनतम 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वायुमंडल में आ‌र्द्रता 43 फीसदी रही। बारिश से किसान समेत बाग मालिक परेशान है। उन्हें आंधी की आशंका सता रही है। दरअसल, आंधी से बागों में भारी नुकसान की आशंका है। कच्चा आम अभी अचार आदि के लिए भी प्रयोग नहीं हो सकता है। वहीं कृषि कार्य भी बाधित होगा। वहीं शुक्रवार को भी मौसम में परिवर्तन की संभावना जताई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *