उत्तर प्रदेश ताजा समाचार देश

पूर्व विधायक स्व.अखिलेश सिंह की पत्नी वैशाली सिंह हुई विजयी, बढ़ा राजनीतिक कद

रायबरेली: यूपी ब्लॉक प्रमुख चुनाव के परिणाम सामने आ चुके हैं। इस चुनाव में भी पूर्व विधायक स्व. अखिलेश सिंह का दबदबा कायम रहा है। दरअसल, राजबरेली जिले की अमावा ब्लॉक प्रमुख पद के लिए लगभग 32 साल बाद 10 जुलाई को मतदान हुआ। अमावा ब्लॉक प्रमुख पद के लिए चुनाव मैदान में उतरी वैशाली सिंह विजयी हुई है। वैशाली सिंह पूर्व विधायक स्व. अखिलेश सिंह की पत्नी और सदर विधायक अदिति सिंह की मां है।

बता दें कि अमावा ब्लॉक प्रमुख सीट पर पूर्व विधायक स्व. अखिलेश सिंह जिसे चाहते थे, वहीं प्रमुख बनता था। इस बार अमावा सीट से स्व. अखिलेश सिंह की पत्नी वैशाली सिंह ने राजनीति में कदम रखा था। बता दें कि शनिवार 10 जुलाई को अमावां ब्लॉक में 11 बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान शुरू हुआ। एक-एक करके 66 में 64 वोट पड़े। विधायक की मां वैशाली सिंह को 31, धनंजय सिंह को 15 और योगेंद्र सिंह को 16 वोट मिले। दो वोट निरस्त किए गए। वैशाली सिंह को ब्लॉक प्रमुख निर्वाचित किया गया। बीते तीन दशकों की बात करें तो जिस किसी को भी अखिलेश सिंह का समर्थन या अखिलेश सिंह की सहमति मिल जाती थी, वही अमावा ब्लॉक का ब्लॉक प्रमुख बन जाता था। लेकिन आज वक्त बदल चुका है, आज उसी सीट पर उनकी पत्नी को 1-1 वोट के लिए संघर्ष करना पड़ा।

अखिलेश सिंह की मौत के बाद उनके परिवार का ये पहला चुनाव है और उनकी पत्नी ने वैशाली सिंह अमावा ब्लॉक प्रमुख सीट पर जीत दर्ज करवाई है। वैशाली सिंह की जीत के साथ ही उनका राजनीतिक कद और बढ़ गया। खबरों के मुताबिक, पूर्व विधायक के पिता स्व. धुन्नी सिंह, भाई स्व. अशोक सिंह और कमलेश सिंह प्रमुख रह चुके हैं। 1988 में अशोक सिंह के खिलाफ कोड़रस के राम मूरत सिंह चुनाव लड़े थे, लेकिन उन्हें बहुत कम वोट मिले थे। तब से जितने लोग भी प्रमुख बने, सभी निर्विरोध रहे। पूर्व विधायक ने जिनके नाम पर मुहर लगा दी, क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने उन्हें अपना प्रमुख मान लिया। अगस्त 2019 में बीमारी के चलते उनका निधन हो गया, जिसके बाद जिले का राजनीतिक परिवेश बदल गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *