अनिल देशमुख के खिलाफ ED ने दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का मामला, CBI पहले ही कर चुकी है FIR

अनिल देशमुख के खिलाफ ED ने दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का मामला, CBI पहले ही कर चुकी है FIR

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। सीबीआई के द्वारा FIR दर्ज करने के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने भी उनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज कर लिया है। ईडी ने धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत मामला दर्ज किया है।

आपको बता दें कि सीबीआई ने अनिल देशमुख के खिलाफ जो एफाआईआर दर्ज की है, उसमें उनके खिलाफ आरोप हैं कि उन्होंने अपनी पॉजिशन का अनुचित फायदा उठाया। साथ ही मुंबई पुलिस में ट्रांसफर और पोस्टिंग को भी प्रभावित किया। बता दें कि अनिल देशमुख के खिलाफ FIR में पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के आरोपों को सही पाया गया है। उन्होंने भी देशमुख के खिलाफ यही आरोप लगाए थे। तभी से ईडी और सीबीआई मामले के वित्तीय पहलुओं की जांच में जुट गया है। इस बीच बॉम्बे हाईकोर्ट ने भी सीबीआई की एफआईआर को चुनौती देने वाली अनिल देशमुख की याचिका को खारिज कर दिया था। हाईकोर्ट ने अनिल देशमुख को निर्देश दिया था कि अगर जरूरत पड़ी तो उनके केस की तात्कालिकता के आधार पर हाईकोर्ट की वेकेशन बेंच को ट्रांसफर किया जाएगा।

आपको बता दें कि मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परम बीर सिंह ने आरोप लगाया था कि अनिल देशमुख जब वह महाराष्ट्र के गृह मंत्री थे तो उन्होंने तत्कालीन ASI सचिन वाजे से मुंबई में होटल, बार और रेस्टोरेंट से हर महीने 100 करोड़ रुपए इकट्ठा करने के लिए कहा था। ये आरोप लगने के बाद सचिन वाजे को सस्पेंड कर दिया गया था। आपको बता दें कि सचिन वाजे फिलहाल एंटीलिया मामले में जेल के अंदर हैं।

उत्तर प्रदेश ताजा समाचार देश