उत्तर प्रदेश ताजा समाचार देश

69 हजार शिक्षक भर्ती मामला: रोते-बिलखते अभ्यर्थियों ने घेरा सीएम आवास,

लखनऊ: पिछले 22 दिनों से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अभ्यर्थी प्रदर्शन कर रहे है। प्रदर्शनकारी अभ्यर्थियों का कहना है कि 69 हजार पदों की भर्ती में ओबीसी वर्ग को नियमानुसार 27 फीसदी आरक्षण नहीं दिया गया, बल्कि 4 फीसदी से भी कम आरक्षण मिला। इसी तरह एससी वर्ग को भी 21 फीसदी आरक्षण नहीं मिलने का आरोप लगाया। अपनी मांगों को लेकर सड़क पर उतरे अभ्यर्थियों ने 5 कालिदास मार्ग का घेराव किया, जहां मुख्यमंत्री से लेकर उप मुख्यमंत्री तक आवास हैं। अभ्यर्थियों ने आरक्षण में घोटाले का आरोप लगाते हुए मंगलवार सुबह रोते-बिलखते ‘योगी जी न्‍याय दो’ का नारा लगाना शुरू कर दिया। वहीं, कुछ अभ्यर्थी भाजपा कार्यालय पहुंच गए औऱ सड़क पर बैठकर-लेटकर न्याय की मांग करने लगे। इस दौरान सीएम आवास पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने माहौल बिगड़ता देख, प्रदर्शन कर रहे अभ्‍यर्थियों खदेड दिया और बसों में भरकर धरना स्‍थल (इको गार्डन) भेज दिया। बताया जा रहा है कि आरक्षण घोटाले से आहत होकर एक अभ्यर्थी ने गोमती में छलांग लगा दी। अभ्यर्थी को बचाने के लिए गोमती नदी में रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है।

वहीं, दूसरी और भाजपा कार्यालय पर प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों और पुलिस कर्मियों के बीच झड़प हो गई। बताया जा रहा है कि झड़प में एक महिला अभ्यर्थी का हाथ टूटा। वहीं, कई अभ्यर्थी बेहोश हो गए तो कई को चोटें भी आई है। पुलिस ने अभ्यर्थियों को घसीटकर बस में भरा और धरना स्‍थल (इको गार्डन) भेज दिया। गौरतलब है कि 69000 शिक्षक भर्ती मामले में आरक्षण घोटाले का आरोप लगाते हुए पिछले कई दिनों से अभ्‍यर्थी लखनऊ के अलग-अलग हिस्‍सों में प्रदर्शन कर रहे हैं। बीते दिन इन्‍हीं अभ्‍यर्थियों पर लाठीचार्ज भी हुआ था। आज फिर वे अपना हक मांगने सीएम आवास पर पहुंचे।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कहा, ‘लखनऊ के शिक्षा निदेशालय पर 69000 शिक्षक भर्ती आरक्षण घोटाले के खिलाफ हक़ की लड़ाई लड़ रहे पीड़ित छात्रों की मांग सुनने की बजाय हज़ारों ओबीसी और SC सीटों को लूटने वाली योगी सरकार उनपर बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज करवाती है, जो निंदनीय है। हर लाठी का हिसाब 2022 में भाजपा को चुकाना पड़ेगा।’ समाजवादी पार्टी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा गया है कि वोट लेने के लिए जुमलो की फुहार, नौकरी मांगने पर लाठी की बौछार! लखनऊ में 69000 शिक्षक भर्ती के एससी, एसटी, पिछड़े वर्ग से आने वाले अभ्यर्थियों को अपना हक मांगने पर मुख्यमंत्री ने उन्हें लाठी से पिटवाया, घोर निंदनीय! आरक्षण खत्म कर वंचितों को धोखा देने वालों को मिलेगा करारा जवाब।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *