100 साल की महिला ने कोरोना को दी मात, केक काटकर मनाया गया जन्‍मद‍िन

100 साल की महिला ने कोरोना को दी मात, केक काटकर मनाया गया जन्‍मद‍िन

मेरठ: कोरोना वायरस के संक्रमण से एक ओर जहां नौजवान व्‍यक्‍त‍ियों की जान चली जा रही है वहीं दूसरी ओर यूपी के मेरठ में 100 साल की महिला ने इस जानलेवा संक्रमण को मात दी है। महिला का नाम सरदार कौर है। सरदार कौर के सहित पर‍िवार के पांच अन्‍य लोग भी संक्रम‍ित थे, सभी ने कोरोना से जंग जीत ली है।100 साल की बुज़ुर्ग महिला की कोरोना से जंग जीतने के बाद परिवारवालों की उनका जन्मदिन मनाया। दादी ने सिर पर बर्थडे कैप लगाई और खुशी-खुशी केक काटा। कोरोना पर जीत के बाद दादी ने कहा कि वो अपनी मेहनतकश जिंदगी, सक्रियता, आत्मविश्वास और सकारात्मक सोच की वजह से ये जंग जीती हैं। वह कहती हैं कि इलाज के दौरान उन्होंने खुद को कमजोर नहीं पड़ने दिया और घरवालों का भी हौसला बढ़ाती रहीं।

100 साल की सरदार कौर और परिवार के अन्य पांच सदस्य कोरोना की चपेट में आए गए थे। पौत्र विक्रांत चौधरी सहित वधु, नीशू चौधरी ने दादी की द‍िन-रात सेवा की। आखिरकार उनकी मेहनत रंग लायी और दादी ठीक हो गईं। इसके बाद परिवार के लोगों की खुशी का ठ‍िकान नहीं रहा। सरदार कौर के 100वें जन्मदिन का केक काटा गया। दादी के साथ-साथ परिवार के अन्‍य पांच सदस्यों ने भी कोरोना को मात दे दी। परिवार के सभी सदस्यों की रिपोर्ट निगेटिव आ गई।

इससे पहले मेरठ के एक निजी अस्पताल में भर्ती 21 दिन के शिशु ने 18 दिन तक कोरोना से जंग लड़ी और जीत हासिल की थी। इस नवजात की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद बच्चे के माता-पिता के साथ डॉक्टर और नर्सें भी खुश हो गईं। 90 वर्षीय कैलाशपति कोरोना को मात देकर घर लौट चुकी हैं। यही नहीं 81 साल की सुमन जैन ने भी कोरोना को शिकस्त दी। सुमन जैन का ऑक्सीजन लेवल 56 तक पहुंच गया था, लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और कोरोना को मात दे दी। सुमन जैन ठीक होकर अपने घर जा चुकी हैं।

उत्तर प्रदेश कोविड—19 ताजा समाचार देश