उत्तर प्रदेश सहारनपुर

लॉकडाउन की स्थिति देखने साइकिल पर सवार होकर निकले एसडीएम

सहारनपुर। लाकडाउन की स्थिति देखने के लिए एसडीएम साइकिल से सडकों पर निकल पडेे।एसडीएम ने सडकों पर बेवजह घुम रहे लोगों को जमकर फटकार लगाई। एसडीएम की कार्रवाई से दुकानदारों में हडकंप मचा रहा।


शनिवार को एसडीएम हिमांशु नागपाल अचानक गंगोह पहुंचे तथा अपनी गाड़ी को छोड़कर साइकिल लेकर भ्रमण पर निकल गए। उनके पीछे पुलिसकर्मी भी रहे, लेकिन उन्होंने दूरी बनाए रखी। आरंभ में कुछ लोग उनकी पकड़ में आए, लेकिन एसडीएम के आने का पता लगते ही धड़ाधड़ दुकानें बंद हो गई। बाजार में पहुंचने पर उन्हें सड़कों पर भीड़ दिखाई दी तो उन्होंने अनुशासन का पाठ पढ़ाते हुए घरों में ही रहने की सीख दी। कुछ देर में ही सडकें वीरान हो गई।

एसडीएम ने सफाई व्यवस्था को देखा तथा पालिका कर्मियों से सैनिटाइजेशन की जानकारी ली। ककंराली मंदिर के बराबार में पड़ी गंदगी की भी लोगों ने एसडीएम को षिकायत की। सरकार की गाइड लाइन को इस बार लोग ही आइना दिखा रहे हैं। लॉकडाउन के बावजूद भीड़ थम नहीं रही है। जिससे बाजारों में जाम लगा रहता है। किसी भी स्थान पर सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं होता बल्कि कई लोग तो बिना मास्क के सामान लेन पहुंच रहे है। शनिवार को भी बाजारों में लोगों की अच्छी खासी भीड़ रही, लेकिन किसी भी जगह कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं हुआ। लोग बेधड़क होकर घरों से बहार निकल रहे हैं, वहीं मुख्य मार्गों पर भी वाहनों की आवाजाही का सिलसिला जारी रहा, किराना की दुकानों पर भी लोगों की लाइन लगी रही।

दुकानों के शटर खोलने व बंद करने का खेल लगातार चल रहा है। पुलिस के आ जाने पर यह लोग इधर-उधर हो जाते हें तथा जाते ही फिर मनमानी करने लगते हैं। सरकार द्वारा दूध, सब्जी, किरयाना, फल आदि की दुकानें सुबह सात बजे से दोपहर बारह बजे तक खोलने की अनुमति दी हुई है, लेकिन इनकी आड़ में अन्य दुकानदार भी दुकान में ग्राहकों को बंद कर सामान बेच रहे हैं। बंद दुकानों में भीड़ संक्रमण को बढ़ावा मिल सकता है। यही नहीं ग्राहक की मुश्किल आसान करने के लिए अधिकतर दुकानदारों ने अपनी दुकान के शटर पर अपने मोबाइल नंबर लिख दिए हैं। पिछले दो सप्ताह पूर्व एसडीएम हिमांशु नागपाल ने घर में सामान बेचते एक दुकानदार को पकड़ कर फटकार लगाई थी लेकिन इसका असर भी नहीं पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *