उत्तर प्रदेश कोविड—19 ताजा समाचार देश सहारनपुर

सहारनपुर : ब्लैक फंगस का पहला मामला मिला, मौत होने से मचा हडकम्प

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में भी ब्लैक फंगस ने अपनी दस्तक दे दी है। जिले में ब्लैक फंगस से एक व्यक्ति की मौत हो गई। ब्लैक फंगस से मौत के बाद क्षेत्र में हड़कंप मचा है। जनपद में ब्लैक फंगस से यह पहली मौत बताई जा रही है, जबकि अभी तक इस बीमारी से चार केस सामने आ चुके हैं।

बडगांव थाना क्षेत्र के बालूमाजरा निवासी पूर्व प्रधान राजबीर पुत्र सियाराम उम्र 52 वर्ष को लगभग 15 दिन पहले बुखार आया था। परिजनों ने उसे नानौता और देवबंद के नर्सिंग होम में इलाज कराया। जहां इलाज कराते कराते ही राजबीर की एक आंख की रोशनी कम होने लगी। गंभीर हालत देखते हुए चिकित्सकों ने हायर सेंटर के लिए रैफर कर दिया। परिजनों ने राजबीर को सहारनपुर के एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया।
परिजनों के मुताबिक इलाज के दौरान ही उसकी एक आंख की रोशनी चली गई और दूसरी आंख की रोशनी भी कम हो गई। मामला बिगडता देख सहारनपुर से चिकित्सक ने उसे हायर सेंटर के लिए रैफर कर दिया। इसके बाद परिजनों ने 29 मई को राजबीर को ऋषिकेश के एम्स में भर्ती कराया।
मृतक के भाई राजेश व आजाद ने बताया कि वहां राजबीर की कई जांच की गई, लेकिन रिपार्ट के बारे में उन्हें नहीं बताया गया। मंगलवार को चिकित्सकों ने परिजनों को बताया कि राजबीर की दूसरी आंख की रोशनी चली गई है। उपचार के दौरान बुधवार सुबह राजबीर की मौत हो गई।
एम्स द्वारा जारी किये गए डैथ सर्टिफिकेट में ब्लैक फंगस, डायबिटीज व सेप्टिक दर्शाया गया है। बड़गांव क्षेत्र में ब्लैक फंगस का यह पहला मामला है वहीं जिले इस बीमारी से यह पहली मौत है।

जनपद में कोविड के मामलों को देख रही नोडल अधिकारी एवं जिला मलेरिया अधिकारी शिवांका गौड ने कहा कि जनपद में चार केस ब्लैक फंगस के मिले चुके हैं। आज हुई डेथ के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है। उन्होंने बताया कि यदि ब्लैक फंगस से मौत हुई है तो गांव में टीम भेजकर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *