कोविड—19 देश सहारनपुर

नगर निगम दो करोड़ रुपये से अस्पताल में लगायेगा आक्सीजन प्लांट

सहारनपुर। नगर निगम जिला अस्पताल में आक्सीजन प्लांट लगायेगा ताकि महानगर सहारनपुर के लोगों को आक्सीजन की किल्लत से न जूझना पडे़। इसके लिए नगर निगम द्वारा करीब दो करोड़ रुपये जिला अस्पताल को दिए जायेंगे। मेयर संजीव वालिया की अध्यक्षता में 15 वें वित्त की बैठक में यह निर्णय लिया गया। सहारनपुर नगर निगम प्रदेश का ऐसा पहला नगर निगम है जो अपने शहर के लोगों की जान जोखिम कम करने और सुविधा के लिए आक्सीजन प्लांट लगवा रहा है। प्लांट में उत्पादित आक्सीजन उपचार के दौरान लोगों को निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी। नगर निगम की इस मानवीय पहल पर पार्षदों ने मेयर संजीव वालिया और नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह की सराहना की है।

समस्या के समाधान के लिए करें ज्योतिषी से बात नि:शुल्क

 जिला अस्पताल के आक्सीजन प्लांट से मरीजों को निशुल्क दी जायेगी आक्सीजन

मेयर संजीव वालिया ने बताया कि कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण और आक्सीजन की कमी से जनजीवन पर छाये भीषण संकट को देखते हुए नगर निगम ने ये फैसला लिया कि 15 वे वित्त की निधि से जिला अस्पताल में एक आक्सीजन प्लांट लगवाया जायेगा। प्लांट में उत्पादित आॅक्सीजन उपचार के दौरान लोगों को निशुल्क उपलब्ध करायी जायेगी। इसके लिए जिला अस्पताल में जमीन देखी जा रही है। उन्होंने बताया कि सहारनपुर नगर निगम संभवतः प्रदेश का पहला नगर निगम है जिसने आक्सीजन प्लांट लगवाने की पहल की है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस प्लांट के लग जाने से भविष्य में शहर के लोगों को प्राण वायु आक्सीजन के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पडे़गा और सहारनपुर का कोई भी नागरिक आक्सीजन के अभाव में दम नहीं तोडे़गा।

मेयर वालिया ने कहा कि नगर निगम का प्रयास केवल सफाई और नाले-सड़क बनवाने तक सीमित नहीं रहा है। निगम द्वारा जनसुविधाओं को बढ़ाने, शहर को स्वस्थ और सुंदर सहारनपुर देने के लिए लगातार काम किया जा रहा है। संकट के समय में भी नगर निगम ने आगे आकर अपने दायित्व को संभाला है। मंगलवार को ही नगर निगम ने शेखुल हिन्द मेडिकल काॅलेज पिलखनी को निगम निधि से करीब 16 लाख रुपये की आरटीपीसीआर टेस्ट मशीन उपलब्घ करायी है जिससे कोरोना टेस्ट की क्षमता दोगुणी हो गयी है। उसी दिशा में एक और बड़ी पहल करते हुए नगर निगम ने जिला अस्पताल में ये आक्सीजन प्लांट लगाने का फैसला लिया है।

नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने कहा कि कल नगर निगम द्वारा मेडिकल काॅलेज को आरटीपीसीआर टेस्ट मशीन उपलब्ध कराना और अब आक्सीजन प्लांट लगाने का फैसला इस बात का प्रमाण है कि नगर निगम अपने संकल्प को पूरा करने के लिए पिछले साल की तरह ही कोरोना की दूसरी लहर में भी कोराना योद्धा के रुप में काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि रोगियों को आईएमए के सहयोग से टेलीमेडिसिन के माध्यम से घर बैठे मुफ्त ईलाज उपलब्ध कराया जा रहा है। राधा स्वामी सत्संग आश्रम के सहयोग से इस बार फिर जरुरतमंदों को भोजन पहुंचाने की सेवा शुरु की गयी है। इसके अलावा निगम के सफाई कर्मचारी अपनी जान हथेली पर रखकर सुबह पंाच बजे से सफाई, कूड़ा उठान, चूना व मेलाथियान छिड़काव से लेकर सैनेटाइजेशन व फाॅगिंग अभियान में युद्धस्तर पर काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *