जनसंख्या नीति पर सपा सांसद एसटी हसन का बयान, बोले- चुनावी स्टंट

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश में जारी की गई नई जनसंख्या नीति को लेकर समाजवादी पार्टी के सांसद एसटी हसन का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि ये चुनावी स्टंट है। जनसंख्या नीति हिंदू-मुस्लिम मुद्दे में बदल जाएगा और इससे फायदा लेने की कोशिश होगी। बता दें, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को नई जनसंख्या नीति 2021-30 जारी कर दी है। सीएम योगी ने कहा कि बढ़ती जनसंख्या विकास में बाधा है। यूपी में जारी नीति समस्या का समाधान करेगी। इसमें हर तबके का ध्यान रखा गया है।

सपा सांसद ने कहा कि ये चुनावी स्टंट हैं। जनसंख्या नीति को हिंदू-मुस्लिम मुद्दे में बदल दिया जाएगा और इसका फायदा उठाने की कोशिश की जाएगी। उन्होंने कहा कि बड़ी आबादी के फायदे और नुकसान हैं। अधिक वाहन होंगे और इससे अधिक ईंधन कर एकत्र किया जा सकता है। इससे पहले समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान वर्क ने नई जनसंख्या नीति पर बयान दिया था। उन्होंने कहा कि ”कानून बनाना आपके हाथ मैं है, लेकिन जब बच्चा पैदा होगा उसे कौन रोक सकता है।” शफीकुर्रहमान ने कहा, ”जहां तक योगी जी, मोदी जी, मोहन भागवत जी का ताल्लुक है तो इनके तो बच्चे हैं ही नहीं, इन्होंने शादी ही नहीं की है। बताओ सारे हिंदुस्तान को बच्चे पैदा करने नहीं दोगे तो कल को किसी दूसरे मुल्क से मुकाबला करने की जरूरत पड़ी तो लोग कहां से आएंगे।”

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जिन देशों ने, जिन राज्यों ने इस दिशा में अपेक्षित प्रयास किए, उनके सकारात्मक परिणाम देखने को मिले हैं। इसमें और भी प्रयास किए जाने की आवश्यकता है। सीएम ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश की जनसंख्या नीति 2021-30 जारी करते हुए मुझे प्रसन्नता हो रही है, समाज के सभी तबकों को ध्यान में रखकर इस नीति को प्रदेश सरकार लागू कर रही है। वास्तव में जनसंख्या नियंत्रण का जो प्रयास है, वह समाज की व्यापक जागरूकता के साथ जुड़ा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

bank Jobs 2022: bank clerk Recruitment for 6035 posts, how to apply Daily Horoscope | दैनिक राशिफल 3 जुलाई 2022 | दिन रविवार Govt Jobs 2022: IREL Recruitment 2022 Salary 88000/- Daily Horoscope | दैनिक राशिफल 2 जुलाई 2022 | दिन शनिवार