ताजा समाचार देश

CBSE परीक्षा रद्द करने पर हम सहमत, लेकिन इसके खिलाफ याचिकाओं को भी सुनना जरूरी- सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली: कोरोना महामारी को देखते हुए कुछ दिनों पहले केंद्र सरकार ने CBSE की 12वीं की परीक्षा रद्द कर दी थी। जिसके पर सुप्रीम कोर्ट ने भी खुशी जाहिर की थी, लेकिन कुछ लोगों ने इसको चुनौती देते हुए नई याचिकाएं डाल दीं। जिस पर सोमवार को सुनवाई हुई। साथ ही कोर्ट ने CBSE से कहा कि हमने आपकी स्कीम को सैद्धांतिक रूप से सहमति दी है, लेकिन कुछ लोग इसके खिलाफ हमारे पास आए हैं। इस वजह से उनको सुनना जरूरी है। कोर्ट ने ये भी साफ किया कि सिर्फ उन्हीं याचिकाओं को सुना जाएगा, जो अब तक कोर्ट के पास आए हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सीबीएसई ने अपनी पूरी प्लानिंग हमें बता दी है। साथ ही कुछ छात्रों की ओर से फिजिकल इम्तिहान करवाने के लिए याचिका दायर की गई है। ऐसे में वो दोनों को बिंदुवार अध्ययन करेंगे। इसके अलावा कोर्ट सिर्फ उन्हीं याचिका को सुनेगा, जो अब तक दायर की गई हैं। साथ ही रजिस्ट्रार को निर्देश दिया जाएगा कि वो नई याचिकाओं को किसी भी कीमत पर स्वीकार ना करें। इसके बाद कोर्ट ने सोमवार की सुनवाई स्थगित कर दी। अब मंगलवार दो बजे इस याचिका पर सुनवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *