ताजा समाचार देश

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा ने संभाला NHRC के अध्यक्ष का पदभार, पीएम मोदी की सदस्यता वाले पैनल ने किया था चयन

नई दिल्ली: राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) के नए अध्यक्ष नियुक्त किए गए रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा ने अपना चार्ज संभाल लिया है। बुधवार को उन्होंने कार्यालय जाकर अपना जिम्मेदारी संभाली। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस अरुण मिश्रा को सोमवार को NHRC का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। उनके अलावा महेश मित्तल कुमार और डॉ. राजीव जैन को आयोग का सदस्य नियुक्त किया गया था। पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की सदस्यता वाले पैनल ने अरुण मिश्रा को NHRC का नया अध्यक्ष चुना था।

आपको बता दें कि राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का अध्यक्ष पद पिछले साल दिसंबर से खाली पड़ा था। दिसंबर में जस्टिस एचएल दत्तू इस पद से रिटायर हुए थे। आयोग के पूर्णकालिक अध्यक्ष और दो सदस्यों के चयन के लिए पांच सदस्यीय उच्चस्तरीय पैनल की सोमवार को बैठक हुई जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, राज्यसभा में नेता विपक्ष खड़गे और राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश नरायण सिंह शामिल थे।

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज रह चुके रिटायर्ड जस्टिस जस्टिस अरुण मिश्रा ने 1978 में वकालत शुरू की थी। वह 1998-99 में बार काउंसिल ऑफ इंडिया के सबसे कम उम्र के अध्यक्ष चुने गए थे। अरूण कुमार मिश्रा को अक्टूबर 1999 में मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय का न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। बाद में उन्होंने 7 जुलाई 2014 को सर्वोच्च न्यायालय में पद संभालने से पहले राजस्थान उच्च न्यायालय और कलकत्ता उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्य किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *