ताजा समाचार देश

पाकिस्तान में बड़ा रेल हादसा आपस में टकराईं 2 ट्रेनें, अब तक 30 लोगों की मौत, कई घायल

नई दिल्ली: पाकिस्तान में सोमवार सुबह एक बहुत बड़ा रेल हादसा हो गया है। पाकिस्तान के सिंध के डहारकी इलाके में 2 एक्सप्रेस ट्रेनें आपस में टकरा गई हैं, जिसमें अब तक 30 लोगों की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि कई लोग घायल हैं। पाकिस्तान के एआरवाई न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक सर सैयद एक्सप्रेस ट्रेन और मिल्लत एक्सप्रेस ट्रेन घोटकी में रेती और दहरकी रेलवे स्टेशनों के बीच आपस में टकरा गईं, जिससे ये बहुत बड़ा रेल हादसा हो गया है। हादसे में फिलहाल 40 से 50 लोग घायल बताए जा रहे हैं। संभावना है मौत के आंकड़ों में बढ़ोतरी हो सकती है।

रिपोर्ट के मुताबिक मिल्लत एक्सप्रेस कराची से सरगोधा और सर सैयद एक्सप्रेस रावलपिंडी से कराची जा रही थी। हादसा सोमवार (07 जून) तड़के 3 बजकर 45 मिनट पर हुआ। जियो टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक हादसे के 3-4 घंटे तक घटनास्थल पर कोई बचाव कार्य शुरू नहीं हुआ था। हादसे के बाद घायलों को अस्पताल ले जाया जा रहा है। घोटकी, धारकी, ओबरो और मीरपुर मथेलो के अस्पतालों में आपात स्थिति घोषित कर दी गई है और डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को ड्यूटी पर बुलाया गया है।

घोटकी के उपायुक्त उस्मान अब्दुल्ला ने कहा कि घटना में कम से कम 30 लोग मारे गए हैं जबकि 50 अन्य घायल हुए हैं। हालांकि, अधिकारियों को नागरिकों को बचाने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा था क्योंकि बोगियां पलट गई थीं, उन्होंने कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

न्यूज से बात करते हुए उपायुक्त उस्मान अब्दुल्ला ने कहा कि घटना में 13 से 14 डिब्बे पटरी से उतर गए जबकि 6 से 8 डिब्बे पूरी तरह नष्ट हो गए। उन्होंने कहा कि जो लोग अभी भी फंसे हुए हैं, उन्हें बाहर निकालना बचाव अधिकारियों के लिए एक चुनौती है। उन्होंने कहा, “यह एक चुनौतीपूर्ण काम है। लोग अभी भी फंसे हुए हैं, उन्हें बाहर निकालने में भारी मशीनरी का उपयोग करने में समय लगेगा।” उन्होंने कहा कि जिले में मेडिकल इमरजेंसी की घोषणा कर दी गई है और सभी डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को बुलाया गया है। घोटकी के एसएसपी उमर तुफैल ने कहा कि घटना में जिन लोगों को मामूली चोटें आई हैं, उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया है और उन्हें छुट्टी दे दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *