ताजा समाचार देश

महाराष्ट्र में पांच स्तरीय अनलॉक आज से शुरू, जानिए क्या खुलेगा क्या रहेगा बंद

मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामलों में आई कमी के बीच वहां अनलॉक की प्रक्रिया चरणबद्ध तरीके से शुरू की जा रही है। आज से महाराष्ट्र में पांच स्तरीय अनलॉक की शुरुआत होगी। महाराष्ट्र सरकार ने 5 जून को ही इस बाबत अधिसूचना जारी की थी। सरकार के आदेशानुसार, प्रत्येक गुरुवार को जन स्वास्थ्य विभाग प्रत्येक जिले में कोरोना पॉजिटिविटी का रेट और ऑक्सीजन बेडों की ऑक्यूपेंसी का प्रतिशत घोषित करेगा। इन मापदंडों को अलग करने के बाद ही स्थानीय प्रशासन यह फैसला लेगा कि लॉकडाउन की पाबंदियों में छूट दी जाए या नहीं।

मुंबई और मुंबई उपनगरों में लॉकडाउन के मामले में छूट दी जाए या नहीं और यदि दी जाए तो कितनी दी जाए इस संबंध में बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) फैसला लेगा। वहीं, एक से अधिक नगर निगम वाले ठाणे, पुणे, नासिक, नागपुर और सोलापुर जैसे जिलों में बीएमसी इन निगमों के साथ मिलकर पॉजिटिविटी रेट और ऑक्सीजन बेड ऑक्यूपेंसी के आधार पर लॉकडाउन में ढील देने का फैसला लेगा।

लेवल-1
पहले स्तर में 5 फीसदी से कम पॉजिटिविटी रेट और 25 फीसदी से कम ऑक्सीजन बेड भरे होने वाले जिलों को रखा गया है। यहां पूरी छूट होगी। किसी प्रकार का कोई प्रतिबंध नहीं होगा। राज्य में कुल 18 जिले पहले स्तर में आते हैं।

लेवल-2
इस स्तर में 5 फीसदी से कम पॉजिटिविटी रेट और ऑक्सीजन बेड 25 से 40 फीसदी तक भरे होने वाले जिलों को शामिल किया गया है। इस स्तर में मुंबई भी आती है। इस स्तर में आने वाले जिलों में दुकानें सामान्य तरीके से खुल सकती हैं, लेकिन लेकिन मॉल्स, रेस्टोरेंट, जिम, सैलून और शादी और सभा जैसे भीड़ बढ़ाने वाले कार्यक्रमों में 50 फीसदी की ही छूट रहेगी। ऑफिस पूरी तरह से खुले रहेंगे लेकिन आम जनता के लिए लोकल ट्रेनों में सफर की अनुमति नहीं होगी।

लेवल-3
इस स्तर में उन जिलों को शामिल किया गया है जहां 5 10 प्रतिशत की पॉजिटिविटी रेट है और जिन में ऑक्सीजन बेड 40 प्रतिशत से ज्यादा भरे हुए हैं। इस स्तर में ओखला, अमरावती, बीड़ और पालघर शामिल हैं।

लेवल-4
इस स्तर में उन जिलों को शामिल किया गया है जहां पॉजिटिविटी रेट 10-20 प्रतिशत के बीच है और जहां 60 प्रतिशत से ज्यादा ऑक्सीजन बेड घिरे हुए हैं। इन दिलों में कोल्हापुर, सतारा और सिन्धुदुर्ग शामिल हैं।
यहां वीकेंड पर शाम 5 बजे के बाद आपतकालीन स्थिति को छोड़कर किसी भी प्रकार की आवाजाही पर पूर्ण पाबंदी होगी। जरूरी सामानों की दुकानें खुली रहेंगी। मॉल्स, थिएटर पूरी तरह बंद रहेंगे। केवल आवश्यक काम के लिए बाहर जाने वाले लोग की लोकल ट्रेन में सफर कर सकेंगे।

लेवल-5
इस स्तर में वो जिले शामिल हैं जहां पॉजिटिविटी रेट 20 प्रतिशत से ज्यादा है और जहां 75 प्रतिशत से ज्यादा ऑक्सीजन बेड भरे हुए हैं। वर्तमान में राज्य में ऐसी कोई जगह नहीं है जो इस स्तर में आती हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *