ताजा समाचार देश

प्रमोशन पाने के बाद पति ने फिर मांगा दहेज, नहीं मिलने पर गर्भवती पत्नी को कई….

नालंदा: बिहार के नालंदा जिले के हिलसा थाना क्षेत्र के नोनिया विगहा गांव में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई हैं, जहां दहेज के लालच में ससुराल वालों ने बहू को मौत के घाट उतार दिया। हैवानियत की हद पार करते हुए पहले विवाहिता की हत्या की और फिर उसके शव के कई टुकड़े कर दिया। हालांकि मृतका के पिता की खोजबीन के बाद निर्मम हत्या का खुलासा हो सका। पुलिस ने जमीन में गाड़े गए शव के टुकड़ों को बरामद कर लिया है। पुलिस को शव को जलाने के भी सबूत मिले हैं। मामला तब उजागर हुआ जब उनको जानकारी मिली की उनकी बेटी ससुराल में नहीं है और उसका मोबाइल फोन भी बंद आ रहा है। जब परिजनों को किसी अनहोनी की आशंका हुई तो अपने बेटी काजल की खोजबीन शुरू की। परिजनों ने पुलिस की मदद से कई दिनों तक खोजबीन की। इस दौरान हिलसा के नोनिया विगहा गांव के एक खेत में दफनाया हुआ शव कई टुकड़ों में बरामद किया गया। घटनास्थल से काजल के शव को पेट्रोल छिड़ककर जला देने के भी निशान मिले हैं। Ads by

बता दें कि पटना के सालिमपुर निवासी अरविंद सिंह की बेटी काजल की शादी हिलसा थाना क्षेत्र के नोनिया विगहा गांव के रहने वाले जगत प्रसाद के बेटे संजीत कुमार के साथ साल 2020 में 27 जून को हुई थी। शादी के वक्त संजीत रेलवे में ग्रुप डी के पद पर कार्यरत था। उसका हाल ही में टीटीई के पद पर प्रमोशन हुआ। संजीत का प्रमोशन होते ही दहेज के तौर पर चार लाख रुपये की और मांग की जाने लगी।

मृतक काजल के परिजनों ने बताया कि इसी वर्ष फरवरी में 80 हजार रुपये दे दिये थे फिर भी और राशि न देने पर संजीत कुमार ने अपने परिजनों के साथ मिलकर अपनी गर्भवती पत्नी की हत्या कर दी। वहीं मामले की जांच के लिए पहुंचे हिलसा थानाध्यक्ष किशोर सिंह ने बताया कि फिलहाल मृतका के पिता अरविंद सिंह ने दामाद सहित कुल 5 लोगों पर बेरहमी से काजल की हत्या का मामला दर्ज कराया है। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है और सभी आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *