Family day 2021: जानें अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस का इतिहास और महत्व, कोरोना काल से जुड़ा है इस साल का थीम

Family day 2021: जानें अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस का इतिहास और महत्व, कोरोना काल से जुड़ा है इस साल का थीम

नई दिल्ली: आज दुनियाभर में अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाया जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस हर साल 15 मई को मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र की ओर से 15 मई अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाने की घोषणा की गई है। इस दिन को मनाने के पीछे का मकसद है, दुनियाभर में परिवारों की भलाई। जिसमें स्वास्थ्य, शिक्षा, बच्चों के अधिकार, लिंग समानता, कार्य-परिवार संतुलन और दूसरों के बीच सामाजिक समावेश जैसे सारे मुद्दे शामिल हैं। आज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में परिवार की भूमिका और भी ज्यादा बढ़ गई है, खासकर कोरोना काल में। कोरोना वायरस महामारी ने अचानक लोगों के जीवन की दिनचर्या पर ठहराव बटन लगा दिया है। लॉकडाउन ने लोगों अकेले रहने के लिए मजबूर किया। स्कूल बंद कर दिए गए हैं और कार्यालय बंद हैं। ऐसे में परिवार का महत्व इस कोरोना काल में उभकर सामने आया है।

अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2021 का थीम है- ”परिवार और नई तकनीक”। यूएन ने बताया है कि दुनियाभर में लंबे वक्त से कोविड-19 महामारी का प्रकोप जारी है। ऐसे में दुनिया की लगभग आधी आबादी घरों में कैद है। इस मुश्किल वक्त में परिवार और नई तकनीक ही लोगों का सहारा बने हैं। लंबे समय तक कोविड-19 महामारी ने काम, शिक्षा और संचार के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकियों और परिवार के महत्व को समझाया है। कोरोना काल में अकेलेपन से जूझ रहे, लोगों ने जहां परिवार और परिजनों की अहमित को समझा है तो वहीं लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग ने लोगों को डिजिटल प्लेटफॉर्म के महत्व को भी सिखाया है।

1980 के दशक के दौरान, संयुक्त राष्ट्र ने परिवार से संबंधित मुद्दों पर ध्यान देना शुरू किया। 1983 में आर्थिक और सामाजिक परिषद की सिफारिशों के आधार पर, सामाजिक विकास आयोग ने विकास प्रक्रिया में परिवार की भूमिका पर जागरूकता बढ़ाने का अनुरोध किया। 29 मई 1985 को परिषद ने महासभा को अपने 41वेंसत्र के अनंतिम एजेंडे में “विकास प्रक्रिया में परिवार” नामक एक मुद्दे को शामिल करने की संभावना पर विचार करने के लिए आमंत्रित किया।

उसके बाद 1993 में, संयुक्त राष्ट्र जनरल एसेंबली ने एक प्रस्ताव में फैसला लिया कि हर साल 15 मई को अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस के रूप में मनाया जाएगा। यह दिन परिवारों से संबंधित मुद्दों के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देने और परिवारों को प्रभावित करने वाली सामाजिक, आर्थिक और जनसांख्यिकीय प्रक्रियाओं के ज्ञान को बढ़ाने का अवसर प्रदान करेगा।

ताजा समाचार देश मनोरंजन