कोविड—19 ताजा समाचार देश

दो महीनों के भीतर उत्तराखंड में 2,382 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित, 93 फीसदी ने ली थी वैक्सीन की दोनों डोज

देहरादून: उत्तराखंड में पिछले दो महीनों में 2 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। यहां गौर करने वाली बात ये है कि इन पुलिसकर्मियों में से 93 फीसदी पुलिसकर्मियों ने संक्रमण होने से पहले ही कोरोना की दोनों डोज लगवा ली थीं। स्थानीय प्रशासन द्वारा जारी डेटा के अनुसार यह जानकारी मिली है। इन पुलिसकर्मियों में से ज्यादातर पुलिसकर्मी फिलहाल ठीक हो चुके हैं। मंगलवार को जारी किए गए डेटा के अनुसार 2,382 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं जबकि वे अप्रैल और मई के बीच ड्यूटी पर थे। इनमें से 2,204 संक्रमण से ठीक हो चुके हैं जबकि 5 लोगों की मौत हो चुकी है। मृतकों में से 2 को स्वास्थ्य संबंधी अन्य समस्याएं थीं जबकि 3 लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवाई थी।

कोरोना से इतनी बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों के संक्रमित होने के बार में जब डीआई (कानून एवं सुरक्षा) और उत्तराखंड पुलिस के मुख्य प्रवक्ता नीलेश आनंद भरणे से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कोरोना के गंभीर मामले और इससे होने वाली मौतों की संख्या कम है। उन्होंने आगे कहा कि वैक्सीन निर्माताओं ने भी इस बात की गारंटी नहीं दी है कि वैक्सीन लगवाने के बाद आपको कोरोना नहीं होगा। उन्होंने कहा कि जो पुलिसकर्मी मारे गए हैं उनमें से कुछ की ड्यूटी हरिद्वार कुंभ मेले में लगी थी। हालांकि उनकि मृत्यु और धार्मिक सभा के बीच कोई संबंध नहीं है।

डीआईजी ने आगे कहा कि जो पुलिसकर्मी पॉजिटिव पाए गए हैं उनके परिवारों में 751 लोगो कोरोना से संक्रमित थे जिनमें से 64 लोगों की मौत हो गई। उत्तराखंड में कोरोना की पहली लहर में 1,982 पुलिसकर्मियों को कोरनो हुआ था, जिनमें से 8 लोगों की मौत हो गई थी। आंकड़ों के अनुसार कोरोना पहली और दूसरी लहर में अबतक 4,364 पुलिसकर्मियों को कोरोना हुआ है जिनमें से 13 लोगों की मौत हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *