उत्तर प्रदेश कोविड—19 ताजा समाचार देश शामली सहारनपुर

मोदीनगर से पहुंची 10 मीट्रिक टन आक्सीजन की कमी से जूझ रहे लोगों के लिए राहत भरी खबर है।

शामली: आक्सीजन की कमी से जूझ रहे लोगों के लिए राहत भरी खबर है। जिले में अस्पताल के लिए 10 मीट्रिक टन लिक्विड आक्सीजन पहुंच गई है। कोविड-19 से जूझ रहे मरीजों को आक्सीजन की कमी न हो, इसलिए जिला प्रशासन ने मोदीनगर से यह आक्सीजन मंगाई है। डीएम जसजीत कौर ने स्पष्ट किया कि मरीजों को आक्सीजन की कमी न रहे। इसके लिए निरंतर प्रयास चल रहे हैं।

जिलाधिकारी जसजीत कौर ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण के चलते अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए जनपद में 10 मीट्रिक टन लिक्विड आक्सीजन आ गई है। कोविड-19 महामारी के चलते अस्पताल में भर्ती मरीज को आक्सीजन की कमी न हो। इसलिए जनपद शामली को आज इनोक्स मोदीनगर से लिक्विड आक्सीजन प्राप्त हो गई है। बताया कि प्राप्त आक्सीजन से सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती मरीजों को आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना मरीज या ऐसे मरीज जिसका आक्सीजन लेवल कम है। सांस लेने में दिक्कत है, वे मरीज अस्पताल में भर्ती हो और ऐसे मरीजों को तत्काल आक्सीजन की सुविधा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जनपद में आक्सीजन व दवाई की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की समस्या के लिए जिला मुख्यालय पर स्थापित कंट्रोल रूम नंबर 01398-270203 पर फोन कर समस्या बता सकते है। बच्चा वार्ड के लिए अभी कोई तैयारी नहीं

कोरोना की तीसरी लहर से पार पाने के लिए अभी से तैयारी करने की जरूरत है। आशंका जताई जा रही है कि तीसरी लहर बच्चों के लिए भारी होगी, लेकिन अभी इसे लेकर जिले में कोई तैयारी नहीं है। हालांकि, दावा जरूर है कि जरूरत के हिसाब से व्यवस्था कर ली जाएगी।

जिला संयुक्त अस्पताल अभी तक जिले में चालू नहीं हुआ है। हालांकि कोविड चिकित्सालय उक्त भवन में ही चल रहा है। 200 बेड कोविड मरीजों के लिए हैं। अभी तक कोरोना का प्रकोप बच्चों को बहुत अधिक प्रभावित नहीं कर सका है, लेकिन तीसरे लहर को लेकर चिता बढ़ी हुई है। और जरूरी है कि अभी से सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएं। वैसे भी शामली में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति बेहतर नहीं है। विशेषज्ञ चिकित्सकों से लेकर तमाम संसाधनों का अभाव है। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. सफल कुमार का कहना है कि शासन से निर्देश मिलने पर बच्चा वार्ड तैयार कर दिया जाएगा। सीएमओ डा. संजय अग्रवाल का कहना है कि अभी सरकार से उक्त संबंध में निर्देश मिलने की जानकारी नहीं है। हालांकि जो भी तैयारी करनी होगी, वह समय रहते कर ली जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *