अमेरिकी लोगों को बड़ी राहत वैक्सीन लगवा चुके हैं तो मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी नहीं

अमेरिकी लोगों को बड़ी राहत वैक्सीन लगवा चुके हैं तो मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी नहीं

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से ज्यादा प्रभावित देशों में शामिल अमेरिका के लोगों को सरकार के कदम से बड़ी राहत मिली है। अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (सीडीसी) ने कहा है कि अब ऐसे लोगों को मास्क पहनने या सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की जरूरत नहीं है जो पूरी तरह वैक्सीनेट हो चुके हैं। सीडीसी के इस कदम से लोगों को काफी राहत मिली है क्योंकि अभी तक अमेरिका में सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनना जरूरी था। सीडीसी के इस कदम के बाद अमेरिकी लोगों में काफी खुशी देखी जा रही है।

मौजूदा समय में भारत सहित दुनिया के विभिन्न देश कोरोना संकट से बेहाल हैं। यही कारण है कि विभिन्न देशों में मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग के पालन को अनिवार्य कर दिया गया है। कई देशों में तो ऐसा न करने पर जुर्माना भी लगाया जा रहा है। ऐसे में सीडीसी का आदेश अमेरिकी लोगों के लिए बड़ी राहत के रूप में सामने आया है।

सीडीसी की ओर से स्पष्ट किया गया है कि अमेरिका में ऐसे लोग जो कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं, अब वे अपनी गतिविधियों का संचालन बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के भी कर सकते हैं। वैसे ही यह भी स्पष्ट किया गया है क्षेत्रीय कानूनों, स्थानीय बिजनेस और वर्कप्लेस की गाइडलाइन के मुताबिक जिन जगहों पर मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है वहां लोगों को उस गाइडलाइन का पालन करना चाहिए।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने भी अमेरिकी लोगों के बीच इस खुशखबरी को शेयर किया है। उन्होंने कहा कि अगर आप पूरी तरह से वैक्सीनेट हो गए हैं तो अब आपको मास्क पहनने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि इसके लिए हमें एक साल की कड़ी मेहनत करनी पड़ी है और बड़ी कुर्बानी भी देनी पड़ी है। इस कड़ी मेहनत का ही नतीजा है कि हम इस मुकाम पर पहुंचे हैं कि या तो आप वैक्सीन लगवा लें या फिर हमेशा मास्क लगाते रहें।

दरअसल टीकाकरण के मामले में अमेरिका ने दुनिया के अन्य देशों को काफी पीछे छोड़ दिया है। अमेरिकी सरकार ने टीकाकरण को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए काफी जोरों से वैक्सीनेशन का काम किया है और इसी का नतीजा है कि काफी हद तक वयस्कों को वैक्सीन लगाने का काम पूरा किया जा चुका है।

अमेरिका में 12 से 15 साल के बच्चों के लिए भी वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी गई है। अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने फाइजर-बायोएनटेक की कोविड-19 वैक्सीन के बच्चों में आपातकालीन स्थिति बालों की मंजूरी दी है। एफडीए का कहना है कि वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर काफी सोच समझकर फैसला लिया गया है क्योंकि यह हमें सामान्य स्थिति में लौटने में पूरी मदद करेगा। एफडीए का यह भी कहना है कि इस मंजूरी के बाद अमेरिका में रहने वाले हर माता-पिता और अभिभावक बच्चों को लेकर भी आश्वस्त हो सकते हैं। अमेरिका से पहले कनाडा ने 12 से 15 आयु वर्ग के बच्चों को फाइजर की वैक्सीन लगाने की अनुमति दे दी थी।

कोविड—19 ताजा समाचार देश