महाराष्ट्र में 1 जून के बाद भी बढ़ सकता है लॉकडाउन, टास्क फोर्स से मीटिंग के बाद CM लेंगे फैसला

महाराष्ट्र में 1 जून के बाद भी बढ़ सकता है लॉकडाउन, टास्क फोर्स से मीटिंग के बाद CM लेंगे फैसला

मुंबई: कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप अब धीरे-धीरे कम हो रहा है। खासकर उन राज्यों के अंदर कोरोना के मामलों में कमी देखी जा रही है, जो अभी तक चिंता का विषय बने हुए थे। इनमें दिल्ली और महाराष्ट्र का नाम सबसे उपर है। राजधानी दिल्ली में भी अब कोरोना के केस कम हो रहे हैं तो वहीं महाराष्ट्र में भी कोरोना का ग्राफ धीरे-धीरे नीचे आ रहा है। हालांकि इन दोनों राज्यों में अभी भी लॉकडाउन लगा हुआ है। दिल्ली और महाराष्ट्र में 31 मई तक लॉकडाउन है। महाराष्ट्र में कहा जा रहा है कि 31 के बाद भी लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है, लेकिन कुछ प्रतिबंधों में ढील दी जा सकती है। बुधवार को महाराष्ट्र सरकार की कैबिनेट मीटिंग में इस पर व्यापक चर्चा हुई।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र सरकार केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला के द्वारा सभी मुख्य सचिवों को दिए निर्देशों को ध्यान में रखकर ही लॉकडाउन के अगले चरण के दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे। महाराष्ट्र में ताजा मामलों के अंदर गिरावट दर्ज की जा रही है। इसके अलावा एक्टिव मामलों में भी कमी है। ऐसे में स्थानीय जरूरतों और स्थिति का आकलन करने के बाद प्रतिबंधों में ढील पर विचार किया गया है।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, लॉकडाउन के अगले चरण के दिशा-निर्देशों की घोषणा करने से पहले विभिन्न नगर आयुक्तों, पुलिस और स्वास्थ्य विभाग से जानकारी ली जाएगी और उनके साथ विचार-विमर्श भी किया जाएगा। इसके अलावा कुछ मंत्रियों की राय भी ली जाएगी। महाराष्ट्र सरकार के कुछ मंत्रियों की राय ये भी है कि खेती के लिहाज से ये मौसम बुवाई के लिए सर्वोत्तम है, इसलिए ग्रामीण क्षेत्रों में बीज और उर्वरक की आपूर्ति के लिए कुछ छूट दी जानी चाहिए।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि हम लॉकडाउन को पूरी तरह से खत्म नहीं कर सकते। शुरुआत में कुछ प्रतिबंधों में छूट दी जाएगी। इसके अलावा दुकानों का समय बढ़ाया जा सकता है। इसके अलावा लोगों को घरों से बाहर आने-जाने के लिए भी समय अधिक दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभी मुख्यमंत्री स्टेट टास्क फोर्स से मिलेंगे, उसके बाद ही निर्णय लिया जाएगा।

कोविड—19 ताजा समाचार देश