अमेरिका कई देशों को 25 मिलियन कोरोना की वैक्सीन करेगा दान, भारत को दी जाएगी वरीयता

अमेरिका कई देशों को 25 मिलियन कोरोना की वैक्सीन करेगा दान, भारत को दी जाएगी वरीयता

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सलिवन ने गुरुवार को 2.5 करोड़ कोरोना वैक्सीन को दुनिया के अलग-अलग देशों के साथ साझा करने की बात कही है। यही नहीं उन्होंने कहा कि वैक्सीन के बदले हम किसी भी तरह के पक्ष की मांग नहीं करेंगे। सलिवन ने कहा कि हम दुनिया के साथ 25 मिलियन कोरोना वैक्सीन को साझा करने का ऐलान करते हैं। वैक्सीन को साझा करने का हमारा मुख्य लक्ष्य महामारी को खत्म करना है, अधिक से अधिक लोगों को बचाना है और जल्दी से जल्दी सुरक्षित तरीके से लोगों को वैक्सीन लगाना है। हम लोगों की जान बचाना चाहते हैं और कोरोना के चलते खतरे को खत्म करना चाहते हैं और सबसे जरूरी बात यह है कि यही सबसे उचित काम है।

अमेरिकी वैज्ञानिकों का शुक्रिया अदा करते हुए जैक सलिवन ने कहा कि हम इस स्थिति में हैं कि लोगों की मदद कर सकते हैं। जैसा की राष्ट्रपति ने कहा है कि हम कोरोना की वैक्सीन साझा करने के मिशन का इस्तेमाल दूसरे देशों से किसी भी तरह के पक्ष की उम्मीद के साथ नहीं कर रहे हैं। अमेरिका को वैक्सीन को लेकर दुनियाभर से मांग आई है। ऐसे में 25 मिलियन वैक्सीन का वितरण अलग-अलग चीजों पर निर्भर है। हम कोशिश करेंगे कि यह वैक्सीन दुनियाभर के लोगों तक पहुंचे, जहां बहुत ज्यादा आवश्यकता है और लोगों को इसकी बहुत सख्त जरूरत है वहां यह वैक्सीन पहुंचे और जिन देशों ने मांग की है, उनमे से अधिक से अधिक देश की मदद करना है। अमेरिका 75 फीसदी वैक्सीन अलग-अलग चरण में देंगे जबकि 25 फीसदी वैक्सीन तत्काल उन जगहों पर पहुंचाई जाएगी जिन्हें इसकी सख्त जरूरत है। वैक्सीन की डोज हम लैटिन अमेरिका, कैरेबियन देशों, दक्षिणपूर्व एशिया, अफ्रीका आदि में देंगे।

अमेरिका की ओर से कहा गया है कि उसकी प्राथमिकता दक्षिण पूर्व एशिया के देश हैं, जिसमे भारत, नेपात, फिलिपींस आदिश देश शामिल हैं, जहां पर कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़े हैं। जैक सलिवन ने कहा कि हम अपने पड़ोसी देशों कनाडा, मैक्सिको के साथ वैक्सीन को साझा करेंगे, साथ ही रिपब्लिक ऑफ कोरिया, वेस्ट बैंक, गाजा, यूक्रेन, कोसोवो, इराक, हैती आदि देशों के साथ वैक्सीन को साझा करेंगे। बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन ने कहा था कि वह जून माह तक 80 मिलियन कोरोना की वैक्सीन को साझा करने की बात कही थी। राष्ट्रपति के ऐलान के बाद 25 मिलियन की पहली खेप को जारी किया जा रहा है।

कोविड—19 ताजा समाचार देश