गुरमीत राम रहीम की हवस से बचने के लिए ये बहाना बनती थी साध्वियां

नई दिल्ली : डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख और बलात्कार के आरोप में जेल में बंद गुरमीत राम रहीम को लेकर रोज नये नये खुलासे हो रहे है। इस संबंध में मंगलवार को एक न्यूज़ चैनल से खास बातचीत में एक साध्वी ने चौकाने वाली बात कही है। चैनल से बातचीत में पीडि़ता ने बताया कि राम रहीम मनपसंद लड़कियों को रोज रात गुफा में 11 बजे बुलाता था। इसी क्रम में उसको भी एक बार गुफा में बुलाया गया था।  लेकिन जब बाबा ने उसके साथ अश्लील हरकतें शुरु की तो वह मासिक धर्म का बहाना बनाकर वो उसके चंगुल से निकल आई थी।

READ ALSO – खुलासा : गुरमीत राम रहीम है सैक्स एडिक्ट, स्वर्ण भस्म और सेक्स टॉनिक का करता था सेवन

इस साध्वी ने चैनल से बातचीत में बताया कि गुफा में लड़कियां चली तो जाती थीं लेकिन आने के बाद मजबूरी वश किसी को कुछ बता नहीं पाती थीं। अंदर जाने वाली लड़कियों को डराया जाता था कि अगर उन्होंने  राम रहीम की इच्छा पूरी नहीं की तो उनके सगे-सबंधियों को मार दिया जाएगा।

पीडि़ता ने बताया कि एक रात उसे भी गुफा में भेजा गया था और उसे भेजने वाले ने  कहा था कि ‘पिता जी को माफी देनी है’ और आज उन्होंने तुम्हे चुना है। पीडि़ता ने बताया कि गुफा में जाने के बाद राम रहीम के गंदे मंसूबों का पता चला। वो बेड पर बैठा अश्लील फिल्म देख रहा था। गुरमीत राम रहीम ने उन्हें बिस्तर पर आने को कहा। लेकिन उसकी हवस से बचने के लिए पीडि़ता ने बहाना बनाया और कहा कि उसे मासिक धर्म हैं। पीडि़ता ने यह भी बताया कि राम रहीम का शिकार होने से बचने के लिए डेरे की साध्वियां अक्सर मासिक धर्म का बहाना बनाती थीं।

READ ALSO – गुरमीत राम रहीम के सवाल पर छलका सपना चौधरी का दर्द , कह दी ये बात..

डेरा के समर्थक रह चुके गुरदास सिंह तूर ने सोमवार को इस बात का दावा किया था कि राम रहीम अनाथालय की बच्चियों से रेप करता है। इतना ही नहीं प्रेग्नेंट हो जाने पर डेरा के अस्‍पताल में ही उनका गर्भपात करा दिया जाता है। अनाथालय की लड़कियों को ‘शाही बेटियां’ कह कर संबोधित किया जाता था। गुरदास के मुताबिक, जब वह डेरा का सदस्य था, तब प्रेग्नेंट हुईं तीन लड़कियों का गर्भपात उसके सामने ही डेरे के अस्पताल में करवाया गया था। गुरदास ने कहा है कि वह अब बाल यौन शोषण मामले में राम रहीम के खिलाफ मामला दर्ज कराएगा।

loading...

Leave a Reply

*