• Home
  • Don't Miss
  • आखिर क्यों 44 सालों से अलग है शब्दों के जादूगर अपनी पत्नी से…
Don't Miss Entertainment India Latest News Top News

आखिर क्यों 44 सालों से अलग है शब्दों के जादूगर अपनी पत्नी से…

मुंबईः गुलजार नाम सुनते ही दिल में एक अलग किरदार की छवि बन जाती है। एक शायर, लेखक, गीतकार, निर्माता, निर्देशक जैसी कई पहचान उनके नाम के साथ जुड़ी हुई हैं। गुलजार का नाम आते ही उनके ल‍िखे गीत, कविताएं और नज्में याद आने लगती हैं। उन्हें शब्दों का जादूगर कहा जाता है। 18 अगस्त 1934 को जन्मे गुलजार अपना 84 वां जन्मदिन मना रहे हैं। गुलजार का असली नाम संपूर्ण सिंह कालरा है, लेकिन इंडस्ट्री में उन्होंने गुलजार के नाम से खास पहचान पाई है। ‘तुझसे नाराज नहीं जिंदगी, हैरान हूं मैं…’ गाना सुनते ही सबसे पहले दिमाग में गुलजार की छवि आती है। गुलजार ने ऐसे ही न जाने कितने गीतों को दुनिया से रूबरू कराया है। एक शायर, लेखक, गीतकार, निर्माता, निर्देशक जैसे कई पहचान उनके नाम के साथ जुड़ चुकी हैं।

सिख परिवार में जन्में गुलजार का नाम संपूर्ण सिंह कालरा था। लेकिन बॉलीवुड में उन्होंने गुलजार के नाम से खास पहचान बनाई। बचपन में ही मां के गुजर जाने के बाद गुलजार को पिता का ज्यादा प्यार नहीं मिल पाया। देश के बंटवारे के चलते उनका परिवार अमृतसर रह गया और वो मुंबई चले आए। पैसों की तंगी के चलते गुलजार ने एक गैराज में मकैनिक का काम करना शुरू किया। गुलजार को बचपन से ही लिखने का शौंक था, इसलिए गैराज में खाली समय में वो कविताएं लिखा करते थे। गुलजार ने निर्देशक के तौर पर अपने करियर की शुरुआत 1971 में ‘मेरे अपने से की थी’। इससे पहले बतौर लेखक उन्होंने आशीर्वाद, आनंद, खामोशी जैसी फिल्मों के लिए डॉयलॉग्स और स्क्रीप्ट लिखी थी।

गुलजार को फेमस अदाकारा राखी से मोहब्बत हो गई थी। उनकी शादी 15 साल की उम्र में एक बांग्ला फिल्मकार से हो चुकी थी। लेकिन ये शादी लंबे समय तक नहीं चली और शादी टूट गई। बॉलीवुड की एक पार्टी में मिली राखी को पहली बार में गुलजार दिल दे बैठे। दोनों ने 15 मई 1973 में शादी कर ली। दोनों की आपसी लड़ाई के चलते गुलजार राखी के साथ ज्यादा समय तक नहीं रहे और उन्होंने राखी से तलाक ले लिया। शादी के बाद गुलजार के कहने पर राखी ने फिल्मों से दूरी बना ली थी, लेकिन डिवोर्स के बाद उन्होंने एक बार फिल यश चोपड़ा की फिल्म ‘कभी-कभी’ से अपने करियर की शुरुआत की। बीते 44 सालों से गुलजार अकेले ही रह रहे हैं। बता दें कि दोनों की एक बेटी मेघना गुलजार भी है।

अलगाव की वजह शादी के लिए गुलजार ने राखी के सामने एक शर्त रखी थी कि वह अब फिल्मों में काम नहीं करेंगी, लेकिन राखी दिल से इस शर्त को न मान सकीं। उन्हें लगता था कि एक दिन गुलजार फिल्मों में काम करने की इजाजत दे देंगे। कश्मीर में ‘आंधी’ फिल्म की शूटिंग चल रही थी इस फिल्म की हीरोइन सुचित्रा सेन, अभिनेता संजीव कुमार से नाराज चल रही थीं. इसीलिए गुलजार सुचित्रा को मनाने पहुंचे, बंद कमरे में घंटों दोनों के बीच बात होती रही. बहुत देर समझाने के बाद आखिर सुचित्रा मान गईं और गुलजार बंद कमरे से जैसे ही बाहर निकले, उनका राखी से सामना हो गया। गुलजार को रात में सुचित्रा के कमरे से बाहर आता देख राखी भड़क गईं और उन्होंने पूछा कि इतनी रात को वह सुचित्रा के कमरे में क्या कर रहे हैं. गुलजार ने मामले को संभालने की कोशिश की लेकिन राखी का गुस्सा सातवें आसमान पर था. उनकी आवाज इतनी तेज थी कि होटल का स्टाफ इकट्ठा हो गया।

गुलजार के सब्र का बांध टूट चुका था और उन्होंने बिना सोचे समझे राखी पर हाथ छोड़ दिया. बाद में होटल के स्टाफ के जरिए खबर आई कि उस रात गुलजार ने राखी की खूब पिटाई की थी पति की पिटाई से आहत राखी ने दोबारा फिल्मों में जाने का मन बना लिया और यश चोपड़ा की फिल्म ‘कभी कभी’ से नई पारी शुरू कर दी. राखी और गुलजार बेटी के पैदा हो जाने के बाद 1974 में एक-दूसरे से अलग हो गए थे और तब से लेकर अब तक उनके बीच में तल्खी बनी हुई है. हालांकि दोनों सार्वजनिक मंचों पर साथ दिखाई दे जाते हैं लेकिन बीते 44 सालों से गुलजार अकेले ही रह रहे हैं।

Related posts

वॉट्सऐप ने अपने यूजर्स दिया ग्रुप वीडियो और वॉइस कॉलिंग का नया फीचर…

Atul kashyap

एक बार फिर उलेमा के निशाने पर आए मोहसिन रजा

Editor

पाकिस्‍तान होगा अगले कुछ सालो में दुनिया का सबसे अधिक परमाणु हथियार रखने वाला देश…

Atul kashyap