Astrology-Religion fast and festivals Gallery India Lohri Top News Zara Hatkey

Lohri : भगवान श्रीकृष्ण और श‍िव से जुड़ी है लोहड़ी, जानें महत्‍व

नई द‍िल्‍ली: 13 जनवरी को देशभर में लोहड़ी का त्‍योहार मनाया जा रहा है। यह पर्व मकर संक्रांति से एक द‍िन पहले आता है। पंजाबियों के लिए लोहड़ी खास मायने रखती है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि इसे मनाने की वजह भगवान श्री कृष्ण और श‍िव जी से भी जुड़ी है-

यूं तो लोहड़ी सर्दी के मौसम के जाने और फसलों से जुड़ा पर्व है लेकिन भगवान श्री कृष्ण और श‍िव जी से भी इस त्‍योहार को मनाने की कथाएं जुड़ी हैं।

कृष्ण ने क‍िया था लोहिता का वध 
एक प्रचालित लोक कथा के अनुसार मकर संक्रान्ति के दिन कंस ने श्री कृष्ण को मारने के लिए लोहिता नाम की राक्षसी को गोकुल भेजा था। जिसे श्री कृष्ण ने खेल-खेल में ही मार डाला था। उसी घटना के फलस्वरूप लोहड़ी पर्व मनाया जाता है।  सिंधी समाज भी मकर संक्रांन्ति के एक दिन पूर्व इसे ‘लाल लोही’ के रूप में मनाता है।

भगवान श‍िव और सती से जुड़ी कथा 
लोहड़ी मनाने और इस दौरान आग जलाने की परंपरा की एक पौराण‍िक कथा भगवान श‍िव और सती से भी जुड़ी है। एक कथा के मुताबिक, दक्ष प्रजापति की बेटी सती के योगाग्नि-दहन की याद में ही यह अग्नि जलाई जाती है।

दुल्‍ला भट्टी को भी करते हैं याद 
लोहड़ी को दुल्ला भट्टी की एक कहानी से भी जोड़ा जाता है। दुल्ला भट्टी मुगल शासक अकबर के समय में पंजाब में रहता था। दुल्ला भट्टी एक विद्रोही था, जिसके पुरखे भट्टी राजपूत माने जाते हैं।  उस समय लड़कियों को गुलामी के लिए अमीर लोगों को बेच जाता था। दुल्ला भट्टी ने एक योजना के तहत लड़कियों को न केवल छुड़ाया बल्कि उनकी शादी की सारी व्यवस्था भी करवाई।

Related posts

शिवपाल यादव ने बैठाया अंडरवर्ल्ड डॉन के भाई को अपने बगल में, मंच पर किया सम्मानित

Editor

Daily Rashifal 13 August 2018

Editor

दो बड़े अधिकारी आपस में​ भिड़ गए मंत्रियों के आने से पहले, मारपीट तक की आई नौबत

Editor

Leave a Comment