रयान इंटरनेशनल स्कूल मर्डर केस में हुआ नया खुलासा

गुरुग्राम : रयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए मर्डर केस में एक नया खुलासा हुआ है।  सेकंड क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के मासूम प्रद्युम्न की हत्या के मामले की एक के बाद एक सवाल पनप रहे हैं। जिनका जवाब अभी मिलना बाकी है। इसी बीच रयान इंटरनेशनल स्कूल के बस ड्राइवर और चश्मदीद सौरभ ने बेहद चौंकाने वाला खुलासा किया है। सौरभ के बयान के मुताबिक  प्रद्युम्न की हत्या में इस्तेमाल चाकू बस की टूल किट में था ही नहीं। सौरभ ने कहा कि प्रद्युम्न की हत्या के ठीक बाद वह रायन स्कूल में मौजूद था।

उसने प्रद्युम्न की खून से सने शव को भी देखा-यही नहीं उसने उस बस कंडक्टर अशोक को भी देखा जिसकी शर्ट पर प्रद्युम्न के खून का दाग लगा था। हरियाणा पुलिस ने बस कंडक्टर अशोक को आरोपी बनाया है। अशोक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है कि उसने प्रद्युम्न के साथ कुकर्म करने की कोशिश की थी। नाकाम होने पर पकड़े जाने के डर से उसने प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या कर दी।

सुभाष ने कहा कि हत्या के बाद वह उस वक्त स्कूल में टॉयलेट के पास ही था। खून से लत-पत प्रद्युम्न को बस कंडक्टर अशोक ही टॉयलेट से उठाकर बाहर लाया था। जिसके चलते उसकी पूरी शर्ट खून से लथपथ थी। जिसके बाद प्रद्युम्न को हॉस्पिटल ले जाया गया। मैंने सोचा कि बच्चा शायद गिर गया है।  घटना के बाद प्रद्युम्न के परिजनों को फोन किया गया,लेकिन उन्हें पूरी बात नहीं बताई गई।

 

loading...

Leave a Reply

*